सिर्फ एक रुपए लोन पर बैंक ने हड़पे ग्राहक के साढ़े तीन lakh

मामला तमिलनाडु में कांचीपुरम सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक की पल्लवरम शाखा का है।
नेशनल डेस्क/ चेन्नई: जहां एक ओर विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे बिजनेसमैन बैंकों को हजारों करोड़ का चूना लगाकर विदेश में मौज कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर एक कस्टमर को बैंक ने महज एक रुपए नहीं चुकाने पर डिफॉल्टर घोषित कर दिया। इतना ही नहीं, बैक ने ग्राहक का गारंटी के तौर पर रखा 138 ग्राम सोना भी लौटाने से इनकार कर दिया। इस सोने की कीमत करीब साढ़े तीन लाख रुपए है।
मामला तमिलनाडु में कांचीपुरम सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक की पल्लवरम शाखा का है। अपना सोना पाने के लिए पिछले पांच साल से भटक रहे पीड़ित सी कुमार ने अब हाईकोर्ट का रुख किया है। कोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि- ‘बैंक ने 138 ग्राम सोना यह कहकर लौटाने से इनकार कर दिया कि उसके हरेक लोन खातें में एक-एक रुपए बकाया है। अब बैंक न तो सोना वापस कर रही है और न ही बकाया एक रुपए लेने को तैयार है।‘हाईकोर्ट में जस्टिस टी राजा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए नोटिज जारी कर बैंक से 2 हफ्तों में जवाब मांगा है।