आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई कश्मीर में हुई, न कि पाकिस्तान के बालाकोट में: पवार

मुंबई : नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आतंकियों को ‘घर में घुसकर मारने’ वाली टिप्पणी की रविवार को आलोचना करते हुए दावा किया कि आतंकवादियों के खिलाफ कश्मीर में कार्रवाई हुई थी, न कि पाकिस्तान में। उन्होंने साथ ही कहा कि सांस्कृतिक संप्रदायवाद ने सत्तारूढ़ बीजेपी को राजनीतिक रूप से लाभ पहुंचाया है।
पवार ने आगे आगाह करते हुए कहा कि किसी एक समुदाय का किसी दूसरे समुदाय के खिलाफ होना देश के सामाजिक सौहार्द के लिए खतरा है। उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, ‘हम आतंकवादियों को उनके घर में घुसकर मारेंगे।’
उन्होंने कहा, ‘यह हमला पाकिस्तान में नहीं हुआ था, बल्कि कश्मीर में हुआ था और कश्मीर भारत का हिस्सा है।’ वहीं, पवार ने अपने कार्यालय से फेसबुक लाइव चैट के दौरान यह बात कही।
उल्लेखनीय है कि मोदी का यह बयान भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के शिविरों पर की गई कार्रवाई के बाद आया था। भारत ने यह कार्रवाई जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले के बाद की थी। पुलवामा हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। थे। इसकी जिम्मेदारी जैश ने ली थी।