राहुल गांधी ने झारखंड लिंचिंग पर राज्य, केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा किया

राहुल गांधी ने झारखंड में चोरी के आरोप में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या किए जाने के मामले को मानवता पर धब्बा करार दिया।
झारखंड में चोरी के आरोप में तबरेज अंसारी नाम के युवक की पीट-पीटकर हत्या कर देने की घटना को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘मानवता पर धब्बा’ करार दिया है। उन्होंने इस घटना को लेकर केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। इस मामले में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है वहीं कांग्रेस ने मृतक की पत्नी के लिए सरकारी नौकरी की मांग की है।

Rahul Gandhi

@RahulGandhi
The brutal lynching of this young man by a mob in Jharkhand is a blot on humanity. The cruelty of the police who held this dying boy in custody for 4 days is shocking as is the silence of powerful voices in the BJP ruled Central & State Govts. #IndiaAgainstLynchTerror
बता दें कि मामला तब प्रकाश में आया जब इससे संबंधित विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसमें कुछ लोग पीड़ित को ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ बोलने के लिए विवश करते हुए दिख रहे हैं। पुलिस ने बताया कि तबरेज की मौत के मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है।
उधर, सरायकेला खरसावां के पुलिस अधीक्षक (एसपी) कार्तिक एस ने बताया कि 17 जून को अंसारी और दो अन्य चोरी की मंशा से रात को सरायकेला गांव के एक घर में घुसे। हालांकि, घर में रहने वाले लोग जाग गए और चिल्लाने लगे जिसके बाद गांव वालों ने अंसारी को पकड़ लिया और उसके साथ मारपीट की जबकि उसके साथी फरार हो गए।
गांव वालों के खबर देने पर पुलिस अगली सुबह घटनास्थल पहुंची जहां से तबरेज को गिरफ्तार किया गया। पुलिस का दावा है कि उन्होंने उसका प्राथमिक उपचार किया, लेकिन तबीयत बिगड़ने पर सदर अस्पताल ले जाया गया जहां जांच में पता चला कि उसे ज्यादा चोटें आईं हैं इसके बाद उसे जमशेदपुर के टाटा मेन अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस का कहना है कि जांच के दौरान यह पता चला कि गिरफ्तारी से पहले रात में गांव वालों ने उसे खंभे से बांधकर भी पीटा था।