मध्य प्रदेश में मिलावट के ज़हर पर प्रभावी अंकुश जारी

मुरैना/अंबाह. सिंथेटिक दूध बनाने वाले कारोबारी मोटे मुनाफे के लिए दूध में सरकार द्वारा प्रतिबंधित घातक केमिकल क्लोरोफॉर्म भी मिला रहे हैं। प्रशासन एवं फूड सेफ्टी विभाग की टीम द्वारा शनिवार को एक बंद गोदाम का ताला तुड़वाया गया तो वहां 20 लाख रुपए कीमत के रिफाइंड ऑइल सहित 20 लीटर क्लोरोफाॅर्म, 1200 लीटर लिक्विड डिटर्जेंट, एथेनॉल सहित अन्य घातक केमिकल मिले। जब्त सामग्री की कीमत 50 लाख रुपए है। यह सिर्फ एक कारोबारी के 3 गोदाम से मिला मटेरियल है। टीम ने 3 और गोदाम सील कर दिए हैं, जिनमें से सुबह केमिकल जब्ती की कार्रवाई होगी। 20 जुलाई को ग्वालियर एसटीएफ ने अंबाह की वनखंडेश्वर डेयरी पर छापामार कार्रवाई की थी, उस दौरान ब्लॉक रोड निवासी सोनू अग्रवाल अपने घर व घर से दूर स्थित 3 गोदाम में ताला डालकर भाग निकला था। 20 जुलाई को सील किया गया यह गोदाम शनिवार को एसडीएम विनोद सिंह के नेतृत्व में नायब तहसीलदार, पटवारियों अौर भोपाल से आए फूड सेफ्टी अधिकारियों की टीम ने खुलवाए।
मंडीदीप: सिर्फ रीपैकिंग कर बेच रहे थे अलग-अलग ब्रांड का घी
औद्यौगिक क्षेत्र मंडीदीप में दो घी निर्माता कंपनियों पर प्रशासन की कार्रवाई में कई गड़बड़ियां मिलीं। टीम ने इन कंपनियों से सैंपल लेने के साथ 15000 लीटर घी जब्त किया है। शनिवार को टीम घी बनाने वाली कंपनी नेशनल इंडस्ट्रीज में पहुंची। यहां कर्मचारी घी बनाने के बजाय अलग-अलग ब्रांड के घी को मिलाकर अशोक घी के पैकेट में री-पैक करते मिले। अमले ने अशोक घी के 15 लीटर वाले 740 टीन व बड़ी संख्या में छोटी पैकिंग वाले डब्बे जब्त किए। इसी तरह दूसरी टीम महावीर इंडस्ट्रीज पहुंची। यहां कंपनी द्वारा खजुराहो के नाम से घी बनाने का लाइसेंस तो है लेकिन यहां भी कर्मचारी दूसरे ब्रांड के घी को खजुराहो के नाम से पैकेट में री-पैक करते देखे गए। पूछने पर कंपनी मालिक ने बताया कि वह इंदौर से घी लेकर आता है। टीम को मौके पर पारस घी मालनपुर के टीन मिले। इस पर टीम ने सैंपलिंग करते हुए खजुराहो घी के 15 लीटर वाले ढाई सौ से अधिक पीपे जब्त किए। कुल जब्त किए गए घी का मूल्य 65 लाख रुपए है।
सारंगपुर: पांच डेयरियाें से तीन हजार लीटर एसिड जब्त
सारंगपुर में शुक्रवार देर रात पांच डेयरियाें पर छापा मार कार्रवाई में तीन हजार लीटर एसिटिक एसिड बरामद किया गया है। इसका उपयोग दूध को फाड़कर फैट निकालने में किया जाता है। प्रशासन इतनी बड़ी मात्रा में एसिड मिलने की जांच कर रहा है। डेयरी संचालकाें के पास एसिड रखने का लायसेंस भी नहीं मिला। नरसिंहगढ़ में साैरभ डेयरी का अनिक प्लांट बिना लायसेंस के चल रहा था। प्लांट में केमिकल भी पाया गया।
नीमच: 70 क्विंटल पाॅलिश वाला धनिया जब्त,प्लांट सील
मालखेड़ा जेतपुरा बायपास स्थित धनिया फैक्टरी पर शनिवार दोपहर 35 सदस्यीय टीम ने हथियारों से लैस जवानों के साथ छापा मारा। प्रशासन ने यहां से सल्फरिंग किया (चमकीला केमिकल) 70 क्विंटल धनिया बरामद किया, जिसकी कीमत करीब 4.23 लाख रुपए है। मौके से हरे कलर की 20 पुड़िया भी मिलीं। प्लांट काे सील कर दिया है। दूषित खाद्य सामग्री मिलने पर उज्जैन के काॅसमाॅस माॅल के बिग बाजार के खाद्य पदार्थ के काराेबार का लाइसेंस निलंबित कर दिया गया है।