24 घंटे में 5 फीट बढ़ा भोपाल का बड़ा तालाब का जलस्तर, पीसी शर्मा पहुंचे निचले इलाकों में

भोपाल. राजधानी भोपाल में झमाझम बारिश का दौर जारी है।सोमवार को रात से हुई मूसलाधार बारिश के बाद बड़े तालाब का जलस्तर भी तेजती से बढ़ रहा है। मंगलवार दोपहर तक ये 1661.40 फीट तक पहुंच गया है। शाम तक इसके 1662 फीट के पार जाने की संभावना जताई जा रही है। 24 घंटे में तालाब का जलस्तर 5 फीट से ज्यादा की बढ़ोत्तरी हुई है। तालाब का फुल टैंक लेवल 1666.80 है। इससे जहां भोपाल के बड़ा तालाब का जल स्तर लगातार बढ़ रहा है तो जनजीवन भी प्रभावित हुआ है। भोपाल में सोमवार को रात करीब 9 बजे से शुरु हुई बारिश का क्रम रात भर रुक-रुक कर जारी रहा। ये मंगलवार तक जारी है और दोपहर में 2 बजे एक बार फिर से जोरदार बारिश हुई। इससे पांच नंबर स्टॉप तालाब ओवरफ्लो होने से मछलियां सड़क पर आ गईं और लोग बीन कर ले जाने लगे।
वहीं, सीहोर में सोमवार रात को हुई झमाझम बारिश का क्रम मंगलवार को भी जारी है। बीते 24 घंटे में करीब 10 इंच बारिश हो चुकी है, सोमवार को रात 9.30 बजे से 1 बजे तक मूसलाधार बारिश हुई। इसका सीधा असर बड़े तालाब पर पड़ रहा है। क्योंकि काेलांस नदी की धार तेजी से बन गई है।
24 घंटे में 5 फीट बढ़ा बड़ा तालाब का जलस्तर
सोमवार को रात से हुई मूसलाधार बारिश के बाद बड़े तालाब का जलस्तर भी तेजती से बढ़ रहा है। मंगलवार दोपहर तक ये 1661.40 फीट तक पहुंच गया है। शाम तक इसके 1662 फीट के पार जाने की संभावना जताई जा रही है। 24 घंटे में तालाब का जलस्तर 5 फीट से ज्यादा की बढ़ोत्तरी हुई है। तालाब का फुल टैंक लेवल 1666.80 है।
पीसी शर्मा पहुंचे निचले इलाकों में
राजधानी भोपाल में हो रही लगातार बारिश से शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। शहर की नेहरू नगर की बसेरा बस्ती में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा आधी रात को बारिश में लोगों से मिलने पहुंच गए। उन्होंने कहा कि बेहतर इंतजाम सुनिश्चित किए जाएंगे ताकि उन्हें और परेशानी का सामना ना करना पड़े। सावन का दूसरा सोमवार भी शहर को तर कर गया। रात 8 बजे के बाद शुरू हुई तेज बारिश के कारण स्मार्ट रोड (डिपो चौराहा से पॉलिटेक्निक चौराहा) की एक दीवार गिर गई। इसके अलावा छोला मंदिर थाने समेत कई इलाकों में पानी जमा हो गया।
निचले इलाकों में भरा पानी
नए व पुराने शहर, बैरागढ़ और भेल टाउनशिप की कुछ कॉलोनियों में मकानों में पानी भर गया। लालघाटी स्थित जैन नगर में संकरे नाले का पानी घरों में घुस गया। लालघाटी की सुविध बिहार कॉलोनी में पुलिया धंसी। राजभवन, अयोध्या बायपास, ईदगाह समेत शहर में सात जगह पेड़ भी गिरे। शाहजहांनाबाद में तेज धमाके के साथ बिजली गुल हो गई।
इधर, अशोका गार्डन की सम्राट कॉलोनी, कोटरा स्थित नया बसेरा, बैरागढ़ शनि मंदिर के पास, टीला जमालपुरा, जिंसी चौराहा स्थित नीम वाली सड़क पर, सब्जी मंडी के पास शिखर आकाश काम्प्लेक्स में, हबीबगंज अंडर ब्रिज, ज्योति टॉकीज चौराहे पर, डीआरएम ऑफिस के आगे अलकापुरी रोड पर, 12 नंबर स्टॉप पर साईं बोर्ड के पास स्थित घरों में पानी भर गया।
कोलार सीप लिंक… अर्दन डैम टूटा, लेट होगा प्रोजेक्ट
कोलार डैम को फुल टैंक लेवल तक भरने के लिए शुरू की गई कोलार-सीप लिंक परियोजना का कार्य पहले तो बहुत धीमी गति से चल रहा था, लेकिन इसमें और देरी हो सकती है। सीप नदी के सहायक नाले निर्माणाधीन अर्दन डैम का एक हिस्सा धमाके की आवाज के साथ बह गया। स्थानीय रहवासियों का कहना है कि डैम फूट गया, जबकि जल संसाधन विभाग का तर्क है कि हमने सुरक्षा के लिहाज से करीब दस मीटर का कट लगाया है।
घरों में 2-2 फीट तक भरा पानी
बैरागढ़ के राजेन्द्र नगर समेत कई इलाकों में घरों में दो-दो फीट तक पानी भर गया।
भेल और कोलार के भी निचले इलाकों में पानी जमा हुआ। बिजली गुल भी।
माैसम केंद्र की बिजली गुल हाे गई थी। डाॅप्लर राडार भी बंद हो गया।
ईदगाह हिल्स क्षेत्र में ऑल सेंट्स स्कूल तिराहे के पास पेड़ गिरने से ट्रैफिक जाम हो गया।
फतेहगढ़ क्षेत्र स्थित यतीमखाने की दीवार गिरने से एक जिप्सी क्षतिग्रस्त हो गई।