Andhra Pradesh: ‘Rape Demo’ in a class of government school, angry villagers beat teachers

Vijayawada: Two teachers of a government primary school in Andhra Pradesh have been accused of showing a demo of a rape in a classroom. The case is of West Godavari district. Education officials said that they are trying to investigate the veracity of the alleged incident in Chintalpudi mandal where the angry villagers assaulted both teachers.
District Education Officer CV Renuka said that she would visit the school on Saturday to assess the incident by herself and find out what really happened in the classroom? The report submitted to the Renuka by the Divisional Education Officer states that no such incident took place. Renuka said, “In that report, the Divisional Education Officer said that there was a quarrel between three students of third grade, two boys and one girl.”
No complaint was filed in the case
He further added, “The report says that the girl got hurt due to this.” The official said that no evidence has been found that the girl was used as a volunteer during the demo of the rape. When contacted, Chintalpudi police said that no complaint has been filed against the teachers yet.
आंध्र प्रदेश: सरकारी स्कूल की एक क्लास में ‘रेप डेमो’, गुस्साए ग्रामीणों ने शिक्षकों को पीटा
विजयवाड़ा : आंध्र प्रदेश के एक सरकारी प्राइमरी स्कूल के दो शिक्षकों के खिलाफ क्लासरूम में रेप का डेमो दिखाने का आरोप लगा है। मामला पश्चिम गोदावरी जिले का है। शिक्षा अधिकारियों ने कहा कि वे चिंतलपुडी मंडल में हुई कथित घटना की सत्यता की जांच करने की कोशिश कर रहे हैं, जहां इस घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने दोनों शिक्षकों के साथ मारपीट की।
जिला शिक्षा अधिकारी सीवी रेणुका ने कहा कि वह शनिवार को स्कूल का दौरा करके खुद से घटना का आकलन करेंगी और पता लगाएंगी कि वाकई में कक्षा में हुआ क्या था? मंडल शिक्षा अधिकारी द्वारा रेणुका को सौंपी गई रिपोर्ट में लिखा है कि इस तरह की घटना नहीं हुई। रेणुका ने कहा, ‘उस रिपोर्ट में मंडल शिक्षा अधिकारी ने कहा कि तीसरी कक्षा के तीन छात्रों के बीच झगड़ा हुआ था, जिसमें दो लड़के और एक लड़की थी।’
मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई
उन्होंने आगे बताया, ‘रिपोर्ट में कहा गया है कि लड़की को इसके चलते चोट लग गई।’ अधिकारी ने कहा कि इस बात के कोई प्रमाण नहीं मिले हैं कि लड़की को रेप के डेमो के दौरान वॉलनटिअर के रूप में इस्तेमाल किया गया हो। चिंतलपुडी पुलिस ने संपर्क करने पर बताया कि अभी तक शिक्षकों के खिलाफ कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई