22 हजार मोबाइल नंबरों की जांच के बाद पुलिस ने किया हत्या का खुलासा

दिल्ली: राजधानी दिल्ली के किशनगढ़ में 6 जून की रात को हुई नेपाल के एक शख्स की हत्याकांड का खुलासा हुआ है। इस केस को सुलझाने के लिए दिल्ली पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस का दावा है कि 22 हजार मोबाइल नंबरों की जांच के बाद वह हत्यारे तक पहुंच पाई। पहले मृतक की पहचान कराने के लिए पोस्टर आदि छपवाकर इलाके में लगवाए। फिर हत्यारे तक पहुंचने के लिए मैराथन जांच की।
इस चर्चित मामले में एक सीसीटीवी फुटेज में मिली संदिग्ध की तस्वीर के आधार पर आरोपी को पकड़ा जा सका। पुलिस ने बताया कि आरोपी का नाम हरबीर सिंह पाल है। 32 साल का हरबीर गैस एजेंसी में सिलिंडर सप्लाई करने का काम करता है। यह मूलरूप से एटा का रहने वाला है। उसे वसंत कुंज साउथ थाना पुलिस ने पकड़ा है।
शराब पिलाने के बाद कर डाला मर्डर
पुलिस ने बताया कि इसने 6 जून की रात को 30 साल के किशन की पत्थर मारकर हत्या कर दी थी। किशन नेपाल का रहने वाला था। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि किशन ने उससे शराब पिलाने के लिए कहा था। इसने उसे शराब पिला दी। इसी दौरान उसने आरोपी को कुछ ऐसी बात कह दी कि इसे गुस्सा आ गया और हरबीर ने सिर पर पत्थर मारकर किशन की हत्या कर दी।