मुजफ्फरनगर: भ्रष्टाचार मामले में महिला थाने पर गिरी गाज, पूरा स्टाफ लाइन हाजिर

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पूरे महिला पुलिस थाने को लाइन हाजिर किया गया है और फिर सभी महिला पुलिस अधिकारियों को पुलिस लाइन्स में वापस भेज दिया गया है. दरअसल, लगातार मिल रही भ्रष्टाचार और अनियमित्ताओं की शिकायतों को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने ये कार्रवाई की है.
मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अभिषेक यादव ने कहा कि उन्हें पुलिस स्टेशन के महिला पुलिस अधिकारियों के संबंध में शिकायतें मिली थीं. उन्होंने बताया कि उस समय मामले की जांच करने के लिए एक टीम भी बनाई गई थी.
एसएसपी ने एक बयान में कहा, ‘जांच में महिला पुलिस अधिकारियों को भ्रष्ट आचरण में शामिल होने और अपने काम को अनदेखा करने का दोषी पाया गया है. सभी महिला पुलिस अधिकारियों को पुलिस लाइन्स में भेज दिया गया है और उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी शुरू की जा रही है.’
महिला पुलिस अधिकारियों के संबंध में मिली शिकायतों और आरोपों की जांच खुद एसपी सिटी सतपाल अंतिल ने की थी. प्रशासन ने बताया है कि हर एक अधिकारी के खिलाफ आरोपों की जांच दुबारा से की जाएगी. जिसके बाद दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई शुरू की जाएगी.