भोपाल में केरवा डैम के गेट खुले तो डैम में फंसे मछली पकड़ रहे युवक

भोपाल। केरवा डैम के पास मछली पकड़ने गए दो युवक अचानक पानी का बहाव तेज होने से बीच फंस गए। गनीमत रही कि फायर ब्रिगेड की रेस्क्यू टीम और रातीबड़ पुलिस वक्त रहते मौके पर पहुंच गई। करीब एक घंटे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दोनों युवकों को सकुशल पानी से बाहर निकाल लिया गया। इसके लिए टीम को सीढ़ी और रस्सी का सहारा लेना पड़ा।
थाना प्रभारी रातीबड़ जेपी त्रिपाठी के मुताबिक इस हादसे की सूचना सोमवार सुबह करीब 11 बजे मिली थी। पुलिस जब केरवा डैम के गेट के पास पहुंची तो दो युवक बड़े पत्थर पर खड़े नजर आए। उनके चारों तरफ से तेज पानी गुजर रहा था। फायर ब्रिगेड की टीम ने स्टील की सीढ़ी लगाई और रस्सी का सहारा लेकर उन तक पहुंची। लाइफ जैकेट पहनाकर टीम ने दोनों को बाहर निकाला। युवक शरबतीपुरा निवासी शिवा (28) और कांजी (40) हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि दोनों सुबह 9 बजे मछली पकड़ने के लिए यहां पहुंचे थे। कुछ देर बाद अचानक पानी का बहाव तेज हो गया और दोनों उसके बीच में फंस गए। पुलिस का कहना है कि केरवा डैम के गेट खुलने से पानी का बहाव बढ़ गया था।
हलाली में डूबा युवक चट्टानों में फंसा मिला : भोपाल रोड पर रामखेड़ी गांव के पास उफनती बेतवा नदी में नहाने के लिए उतरे दोनों युवकों का दूसरे दिन भी कोई सुराग नहीं मिल सका। इन युवकों की तलाश के लिए भोपाल से गोताखोर बुलाए गए थे, जो हाेमगार्ड सैनिकों के साथ दिन भर बेतवा नदी में सर्चिंग करते रहे, लेकिन उनका कोई सुराग नही मिल सका। जबकि हलाली बांध में डूबे दूसरे युवक की लाश सोमवार को सुबह 9 बजे चट्टानों में फंसी हुई मिली है। वहीं सांचेत गांव के पास कल पलकमती नदी में बहे 60 वर्षीय वृद्ध भागचंद लोधी का शव भी मिल गया है। यह वृद्ध भी रविवार को पैर फिसलने से पलकमती नदी में गिर गया था।
उमरावगंज थाना प्रभारी शहबाज खान ने बताया कि रामखेड़ी गांव के पास पुल के नीचे बेतवा नदी में नहाते समय लल्लू पुत्र बाबूलाल 45 आैर मकबूल पुत्र गफूर खां 28 निवासी जाटखेड़ी डूब गए थे। जिनकी तलाश कल से ही चल रही है। दूसरे दिन भोपाल से गोताखोर बुलाए गए थे, जो दिन भर नदी में सर्चिंग करते रहे, लेकिन इन दोनों को कुछ भी पता नहीं चल पाया। इस घटना के बाद से उनके परिजन नदी किनारे बैठे हुए है, जो उनके निकलने का इंतजार कर रहे हैं।
गड्डे में मिला किसान का शव: भिंड के रौन थाना क्षेत्र के निवसाई कुसमरिया गांव में बरसाती नाले में डूबकर एक किसान की मौत हो गई। किसान रविवार को खेतों में पशु चराने गया था। सोमवार सुबह बरसाती नाले में पानी कम होने पर किसान का शऴ एक गड्डे में कीचड़ में फंसा मिला है। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है।