M. P. honoured with National Awards in 3 categories of Poshan Abhiyan

Bhopal, August 23, 2019 (Muslim Saleem): National Awards in 3 categories of Poshan Abhiyan 2018-19 have been given for outstanding activities to Madhya Pradesh by the Union Ministry for Women and Child Development in New Delhi today. The Union Minister for Women and Child Development Smt. Smriti Zubin Irani presented the awards to the state’s Principal Secretary of Women and Child Development Shri Anupam Rajan. Madhya Pradesh has topped in the country in two categories of the Poshan Abhiyan and achieved second place in one other category of the Abhiyan.
Under the Poshan Abhiyan, the state has received first prize of Rs. One crore each for implementing ICDS Common Application Software with excellence and for Constant Efficiency Development Convergence Community based Activities for excellent performance at state level. Similarly, the state has got a second prize of Rs. 75 lakh for excellence in all round works.
It may be highlighted that data is sent by 27 thousand 817 aaganbadi workers to the server of Government of India by mobile phones directly through ICT RTM system under operational in 16 districts of the state. Online digital monitoring is done by this system.
The Union Secretary for Women and Child Development Shri Ravindra Pawar, Additional Secretary Shri Ajay Tirki, Joint Secretary Shri Sajjan Singh Yadav and Commissioner Women and Child Development of the state Shri M.B. Ojha were present on the occasion.
Best District Badwani – Best Block Bahoriband
Under the Poshan Abhiyan, the Government of India has awarded Badwani as the Best district and Bahoriband of Katni district as the Best Block. The aaganbadi workers, sahayika, ANM, ASHA and supervisor each of 10 local centers of Katni and Vidisha districts have been honoured with cash reward of Rs. 50 thousand each.
Work on 5 components has been done in the state under the Abhiyan. These components are ICDS Common Application Software, Incremental Learning Approach, Community based Activities, Convergence Action Plan and Public Movement.

मध्यप्रदेश को पोषण अभियान की तीन श्रेणियों में मिले राष्ट्रीय पुरस्कार

मध्यप्रदेश को पोषण अभियान 2018 -19 में उल्लेखनीय कार्य के लिए महिला-बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आज नई दिल्ली में तीन श्रेणियों में राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किये गये। केंद्रीय महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी ने मध्यप्रदेश के प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास श्री अनुपम राजन को ये पुरस्कार प्रदान किये। पोषण अभियान की दो श्रेणी में प्रदेश को देश में पहला तथा एक अन्य श्रेणी में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
पोषण अभियान में राज्य स्तर पर बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रदेश को आईसीडीएस कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को उत्कृष्टता से लागू करने और आँगनवाड़ियों में सतत क्षमता विकास अभिसरण समुदाय आधारित गतिविधियों के लिए एक-एक करोड़ रुपए के प्रथम पुरस्कार मिले हैं। समग्र कार्य में उत्कृष्टता के लिए प्रदेश को दूसरे स्थान पर 75 लाख रुपए का पुरस्कार मिला है।
राज्य के 16 जिलों में लागू आईसीटी आरटीएम सिस्टम से 27 हजार 817 आँगनवाड़ी कार्यकर्ता सीधे मोबाइल से भारत सरकार के सर्वर में डाटा भेजते हैं। इससे सीधे ऑनलाइन डिजिटल मॉनिटरिंग की जाती है।
इस अवसर पर केंद्रीय सचिव महिला-बाल विकास श्री रविंद्र पवार, अतिरिक्त सचिव श्री अजय तिर्की, संयुक्त सचिव श्री सज्जन सिंह यादव तथा प्रदेश के आयुक्त महिला-बाल विकास श्री एम.बी. ओझा उपस्थित थे।
श्रेष्ठ जिला बड़वानी-श्रेष्ठ विकासखण्ड बहोरीबंद
भारत सरकार द्वारा पोषण अभियान में श्रेष्ठ जिले के रूप में बड़वानी और श्रेष्ठ विकासखंड के रूप में बहोरीबंद जिला कटनी को पुरस्कृत किया गया है। कटनी एवं विदिशा जिले के 10 क्षेत्रीय केन्द्रों में आँगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, एएनएम ,आशा तथा पर्यवेक्षक को 50- 50 हजार रुपए नगद पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
प्रदेश में पोषण अभियान के तहत पाँच घटक में कार्य किया गया। ये घटक हैं आईसीडीएस कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर, इन्क्रीमेंटल लर्निंग अप्रोच, सामुदायिक आधारित गतिविधियाँ, अभिसरण कार्य-योजना और जन-आंदोलन।