Maharashtra cabinet minister Jayadutt became minister after spending 50 crores, alleges relative

Solapur, Maharashtra: Jayadatta Kshirsagar, who went to the Shiv Sena from the NCP, has been accused of paying Rs 50 crore to get a place in the Maharashtra cabinet. The allegation was made by his relative Sandeep Kshirsagar during a rally in Beed. Jayadatta resigned from the post of MP this year and joined Shiv Sena from Nationalist Congress Party. He was made a cabinet minister on 16 June in the Devendra Fadnavish government. During the Shiv Swarajya Yatra, 380 km from Mumbai, Sandeep said, ‘My uncle has spent Rs 50 crore to become a minister. With this money, Beed’s condition could be changed. ”While he was making allegations, senior NCP leaders Dhananjay Munde and Kolhe were also present on the stage.
Another NCP leader joins Shiv Sena in Maharashtra
In view of the upcoming assembly elections in Maharashtra, NCP MLA Dilip Sopal announced to leave the party and join the Shiv Sena. Sopal currently represents Bershi assembly constituency from Solapur district. He has been a state cabinet minister in the previous Congress-NCP coalition government.
Addressing a public meeting in Solapur on Monday, Sopal said, “I will soon join the Shiv Sena and contest the state assembly elections.” A close adviser to Shiv Sena chief Uddhav Thackeray has also confirmed Sopal’s joining the saffron party. Last month, NCP MLA Panduranga Barora joined the Shiv Sena. He represents the Shahpur Legislative Assembly of Palghar district. The Shiv Sena is currently a strong ally of the ruling BJP in both the Center and Maharashtra. At the same time, Bhaskar Jadhav, the tallest leader of Konkan region and former NCP minister, is also talked about joining the Shiv Sena.
Maharashtra cabinet minister Relatives said – Jaydutt became minister after spending 50 crores
महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री पर रिश्तेदार ने साधा निशाना, कहा- 50 करोड़ खर्च कर मंत्री बने जयदत्त
एनसीपी से शिवसेना में गए जयदत्त क्षीरसागर पर महाराष्ट्र कैबिनेट में जगह पाने के लिए 50 करोड़ रुपये देने का आरोप लगा है। आरोप उनके रिश्तेदार संदीप क्षीरसागर ने बीड में एक रैली के दौरान लगाया।जयदत्त इसी साल सांसद पद से इस्तीफा देकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से शिवसेना में शामिल हुए थे। उन्हें देवेंद्र फड़नवीश सरकार में 16 जून को कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। मुंबई से 380 किलोमीटर दूर शिव स्वराज्य यात्रा के दौरान संदीप ने कहा, ‘मेरे चाचा ने मंत्री बनने के लिए 50 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। इस पैसे से बीड की दशा बदली जा सकती थी।’ जिस समय वह आरोप लगा रहे थे, मंच पर एनसीपी के वरिष्ठ नेता धनंजय मुंडे और कोल्हे भी मौजूद थे।
महाराष्ट्र में एनसीपी के एक और नेता शिवसेना में शामिल
महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर एनसीपी विधायक दिलीप सोपाल ने पार्टी छोड़ने और शिवसेना में शामिल होने का एलान कर दिया। सोपाल इस समय सोलापुर जिले से बर्शी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। वह पिछले कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन सरकार में राज्य कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।

सोमवार को सोलापुर में जनसभा को संबोधित करते हुए सोपाल ने कहा, मैं जल्द शिवसेना में शामिल होऊंगा और राज्य विधानसभा का चुनाव लड़ूंगा। शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के नजदीकी सलाहकार ने भी सोपाल के भगवा पार्टी में शामिल होने की पुष्टि कर दी है। पिछले महीने एनसीपी विधायक पानदुरंगा बारोरा ने शिव सेना का दामन थामा था। वह पालघर जिले के शाहपुर विधानसभा का प्रतिनिधित्व करते हैं। शिव सेना इस समय केंद्र और महाराष्ट्र दोनों में सत्तारूढ़ भाजपा की मजबूत सहयोगी है। वहीं, कोंकण क्षेत्र के कद्दावर नेता और एनसीपी के पूर्व मंत्री भास्कर जाधव के भी शिव सेना में शामिल होने की चर्चा है।