Bihar: Contractor burnt alive for not paying bribe

Gopalganj: Criminals are becoming fearless in Bihar. The new case is of Gopalganj district. Unscrupulous miscreants entered the Gandak Project office here and burnt a contractor alive. The police have registered a case. Police is currently on the lookout for the accused.
See all comments Write your comment Police Superintendent Rashid Jama said that an FIR has been lodged in this regard by the relatives of the deceased contractor Ramashankar Singh. According to the SP, in the FIR, the victim’s family has accused Muralidhar Singh, the chief engineer of the flood control department, of killing Ramashankar for not paying the bribe in lieu of payment of his dues.
This accusation of the victim’s family
On the other hand, sensation spread throughout the area after the murder. According to media reports, the entire matter is related to the Gandak Canal Project. The family members of the victims have said that Ramashankar was constantly demanding bribes. It is alleged that he was murdered for not paying bribe.
Police engaged in the investigation of the case
The SP said that the allegations made by the family of Ramashankar’s family are being investigated by the police. On the other hand, the local people blocked the National Highway No. 28 for several hours in protest against Ramashankar’s murder. Later the police and administration ended on persuasion. The SP has said that whoever is found guilty in the case will take strict action against him.
बिहार: रिश्वत नहीं देने पर ठेकेदार को जिंदा जलाकर मार डाला
गोपालगंज : बिहार में अपराधी बेखौफ होते जा रहे हैं। नया मामला गोपालगंज जिले का है। यहां बेखौफ बदमाशों ने गंडक प्रॉजेक्ट कार्यालय में घुसकर एक ठेकेदार को जिंदा जला दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।
सभी कॉमेंट्स देखैंअपना कॉमेंट लिखेंपुलिस अधीक्षक राशिद जमा ने बताया कि मृतक ठेकेदार रामाशंकर सिंह के परिजनों द्वारा इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। एसपी के मुताबिक प्राथमिकी में पीड़ित परिवार ने बाढ़ नियंत्रण विभाग के मुख्य अभियंता मुरलीधर सिंह पर रामाशंकर के बकाया राशि की भुगतान के एवज में रिश्वत की मांग पूरी नहीं किए जाने पर उनकी हत्या कर दिए जाने का आरोप लगाया है।
पीड़ित परिवार का यह आरोप
उधर, हत्या के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह पूरा मामला गंडक नहर परियोजना से जुड़ा है। पीड़ित परिजनों ने कहा है कि रामाशंकर से लगातार रिश्वत की मांग की जा रही थी। आरोप है कि घूस नहीं देने पर उनकी हत्या की गई है।
पुलिस मामले की जांच में जुटी
एसपी ने कहा कि पुलिस द्वारा रामाशंकर के परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप की जांच की जा रही है। उधर, रामाशंकर की हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 28 को कई घंटों तक जाम रखा। बाद में पुलिस और प्रशासन के समझाने पर समाप्त हुआ। एसपी ने कहा है कि मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।