कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, ISI के लिए जासूसी मुसलमान से ज्यादा गैर-मुसलमान कर रहे हैं

भिंड : देश में हिंदू आतंकवाद की थिअरी गढ़ने वालों में शामिल रहे कांग्रेस पार्टी के कद्दावर नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने फिर से एक विवादित बयान दिया है। इस बार उन्होंने कहा कि पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए मुसलमानों से ज्‍यादा गैर-मुसलमान जासूसी कर रहे हैं। अक्सर विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले सिंह ने यह भी कहा कि जो लोग आईएसआई से पैसा लेते हैं, वही बीजेपी और आरएसएस से भी पैसा लेते हैं। इस पर बीजेपी नेता शिवराज सिंह ने कहा कि दिग्विजय सिंह खबरों में बने रहने के लिए विवादित बयान देते रहते हैं। बाद में दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर स्पष्ट किया कि उन्होंने बीजेपी पर यह आरोप नहीं लगाया कि वह ISI से पैसा ले कर पाकिस्तान के लिए जासूसी करती है।
मध्‍य प्रदेश के भिंड में मीडिया से बातचीत में दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘जितने भी पाकिस्तान के लिए जासूसी करते पाए गए हैं, वे लोग बजरंग दल, बीजेपी और आईएसआई से पैसा ले रहे हैं। आईएसआई के लिए जासूसी मुसलमान कम कर रहे हैं और गैर-मुसलमान ज्‍यादा कर रहे हैं। इसको भी समझ लीजिए।’
हमें राष्ट्रीयता का सबक नहीं दे बीजेपी: दिग्विजय
उन्होंने बीजेपी पर राष्ट्रवाद की झूठी रट लगाने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘हमारी विचारधारा की लड़ाई बीजेपी और राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ से है जिन्‍होंने आजाद भारत के संघर्ष में कहीं भाग नहीं लिया और हमें राष्‍ट्रीयता का सबक सीखाना चाहते हैं।’ दिग्विजिय ने सवाल किया, ‘1947 से पहले ये लोग कहां थे? जब इंदिरा ने पाकिस्‍तान के दो टुकड़े कर दिए, तब ये लोग कहां थे? इसलिए हमको सबक देने की जरूरत नहीं है।’

ANI

@ANI
#WATCH MP: Congress leader Digvijaya Singh says, “Bajrang Dal, Bharatiya Janata Party (BJP) are taking money from ISI (Inter-Services Intelligence). Attention should be paid to this. Non-Muslims are spying for Pakistan’s ISI more than Muslims. This should be understood.” (31.08)

Embedded video
1,931
9:52 AM – Sep 1, 2019
Twitter Ads info and privacy
2,253 people are talking about this

सारे हिंदू आतंकवादी संघ से: दिग्विजय
पिछले साल दिग्विजय सिंह ने हिंदू आतंकवाद को मुद्दा बनाते हुए कहा था कि हिंदू धर्म वाले सभी पकड़े गए आतंकी संघ (आरएसएस) से जुड़े रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदू आतंकवादी संघ से आते हैं क्योंकि संघ की विचारधारा नफरत फैलाने वाली है। कांग्रेसी नेता ने कहा, ‘जितने भी हिंदू धर्म वाले आतंकवादी पकड़े गए हैं, सब संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। नाथू राम गोडसे, जिसने महात्मा गांधी को मारा, वह भी आरएसएस का हिस्सा था।’