Lata Tandon of Rewa (MP) creates world record; The world’s first chef to cook for 72 hours

Rewa (Madhya Pradesh)/Bhopal, September 7, 2019 (Muslim Saleem):. On the third day of the Longest Cooking Marathon, Lata Tandon of Rewa has created the world record for the longest cooking time. She has become the world’s first master chef, setting a new record of 72 hours of continuous cooking, surpassing the record of America’s Ricky Lumpkin’s 68 hours 30 minutes and 01 seconds.
The two-member India Book of Record and Asia Book of Records reached Rewa on Friday morning to watch Lata Tandon’s performance. Earlier, online monitoring was done by the India Book of Records team. Lata had set a target of cooking food for 72 hours, which was completed by 2 pm on Friday. He started cooking from 9 am on 03 September. Its video recording has been done. The India Book of Records team has also given a certificate of record on the spot.
Lata became the world’s first master chef
Lata Tandon of Rewa cooked food continuously for three days. The people of the city continued from morning to night to encourage them for three days. Lata stopped at 2 pm on Friday after breaking the world record of cooking food for 72 consecutive hours. When his 72 hours were completed. By doing this Lata Tandon became the first master chef in the world.
Brake taken after 15 hours
When he felt tired while preparing food for 15 hours continuously, he took the first break at 12.15 pm on Wednesday. She rested after resting for 15 minutes and continued to cook food throughout the night. The second break took five minutes at 5.26 am. Then took a third break at 9.31 am.
Crowd of people gathered for three days
A crowd of people gathered for three days to watch Lata Tandon’s performance. Everyone encouraged her, so that she was working with full energy. Cooking food for the city for a long time has been a talking point. People came to see this with the whole family.
Lata took unique challenge
Chef Lata Tandon of Rewa has accepted a unique challenge. A large number of people came to Hotel Star to see their performance. People of his family were present all the time to encourage Chef Lata Tandon. Lata had said that she could complete this challenge in Delhi-Mumbai as well. But whenever this record is discussed, the place will also be mentioned along with it, so has chosen Rewa.
Indian Chef of the Year title
Before starting the Longest Cooking Marathon, Lata said that she had been interested in cooking home cooking since childhood. After marriage, husband Mohit Tandon and family encouraged. She went to London in 2017 and took training there. Accepted the first challenge among 20 thousand master chefs and made it to the final six. He also won the title of International Indian Chef of the Year-2018 after nearly nine months of training.
Five minute break after every hour
His entire campaign was monitored online to create the Guinness Book of World Records. Video recording has been done. A break of five minutes was given after every hour. This means that 60 minutes will be counted, it will not add five minutes. The record is also counted in seconds.

रीवा की लता टंडन ने बनाया कुकिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड; 72 घंटे तक खाना पकाने वाली दुनिया की पहली शेफ
रीवा. लांगेस्ट कुकिंग मैराथन के तीसरे दिन रीवा की लता टंडन ने सबसे ज्यादा समय तक भोजन पकाने का विश्व रिकॉर्ड बना लिया है। उन्होंने अमेरिका के रिकी लुम्पकिन के 68 घंटे 30 मिनट और 01 सेकंड के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए लगातार 72 घंटे तक खाना पकाने का नया रिकॉर्ड कायम करते हुए दुनिया की पहली मास्टर शेफ बन गई हैं।
लता टंडन के परफार्मेंस को देखने के लिए शुक्रवार को सुबह इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड और एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की दो सदस्यीय टीम रीवा पहुंच गई थी। इससे पहले ऑनलाइन मॉनिटरिंग इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम कर रही थी। लता ने 72 घंटे तक भोजन पकाने का लक्ष्य रखा था, जिसे शुक्रवार दोपहर 2 बजे पूरा कर लिया। उन्होंने 03 सितंबर को सुबह 9 बजे से भोजन पकाने की शुरुआत की थी। इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग की गई है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम ने रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट भी मौके पर दे दिया है।
दुनिया की पहली मास्टर शेफ बनीं लता
रीवा की लता टंडन तीन दिन से लगातार भोजन पकाती रहीं। शहर के लोग तीन दिन से उनका उत्साह बढ़ाने के लिए सुबह से लेकर रात तक पहुंचते रहे। लता लगातार 72 घंटे तक भोजन पकाने के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने के बाद शुक्रवार को दोपहर 2 बजे रुकीं। जब उनके 72 घंटे पूरे हो गए। ऐसा करके लता टंडन दुनिया की पहली मास्टर शेफ बन गईं।
15 घंटे के बाद लिया ब्रेक
लगातार 15 घंटे तक भोजन बनाते-बनाते शरीर में थकावट महसूस हुई तो उन्होंने पहला ब्रेक बुधवार को रात को 12.15 बजे लिया। 15 मिनट तक आराम करने के बाद वह फिर से जुटीं और पूरी रात लगातार भोजन पकाती रहीं। सुबह 5.26 बजे दूसरा ब्रेक पांच मिनट का लिया। इसके बाद 9.31 बजे तीसरा ब्रेक लिया।
तीनों दिन जुटी रही लोगों की भीड़
लता टंडन के परफार्मेंस को देखने के लिए तीनों दिन लोगों की भीड़ जुटी रही। सभी ने उनकी हौसला अफजाई की, जिससे वह पूरी ऊर्जा के साथ काम पर जुटी रहीं। शहर के लिए लंबे समय तक भोजन पकाया जाना चर्चा कमें रहा। लोग पूरे परिवार के साथ यह देखने पहुंचते रहे।
लता ने ली अनूठी चुनौती
रीवा की शेफ लता टंडन ने एक अनूठी चुनौती स्वीकार की है। उनके परफार्मेंस को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग होटल स्टार पहुंचते रहे। शेफ लता टंडन का उत्साह बढ़ाने के लिए उनके परिवार के लोग हर समय मौजूद रहे। लता ने कहा था कि ये चुनौती वह दिल्ली-मुंबई में भी पूरा कर सकती थीं। लेकिन जब भी इस रिकार्ड की चर्चा होगी तो उसके साथ स्थान का जिक्र भी आएगा, इसलिए रीवा को चुना है।
इंडियन शेफ ऑफ द ईयर का खिताब
लांगेस्ट कुकिंग मैराथन की शुरुआत करने से पहले लता ने कहा कि बचपन से ही घर का खाना पकाने में उनकी रुचि रही है। शादी के बाद पति मोहित टंडन और परिवार ने प्रोत्साहित किया। साल 2017 में लंदन गईं और वहां पर ट्रेनिंग ली। 20 हजार मास्टर शेफ के बीच पहली चुनौती स्वीकार की और अंतिम छह में जगह बनाई। करीब नौ महीने तक चली ट्रेनिंग के बाद इंटरनेशनल इंडियन शेफ ऑफ द ईयर-2018 का खिताब भी जीता।
हर घंटे के बाद पांच मिनट का ब्रेक
गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड बनाने के लिए उनके पूरे अभियान की ऑनलाइन मॉनिटरिंग की गई। वीडियो रिकार्डिंग की गई है। हर घंटे के बाद पांच मिनट का ब्रेक दिया गया। मतलब ये कि 60 मिनट का घंटा गिना जाएगा, इसमें पांच मिनट नहीं जुड़ेंगे। रिकार्ड की काउंटिंग सेकेंड में भी की गई है।