ट्रैफिक नियम तोड़ने पर ट्रक चालक पर 86,500 रु. का जुर्माना लगा, यह देशभर में सबसे ज्यादा

भुवनेश्वर. ओडिशा के संबलपुर जिले में ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के बाद एक ट्रक ड्राइवर पर पिछले हफ्ते 86,500 रु. का जुर्माना लगा। नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत देशभर में यह अब तक सबसे ज्यादा जुर्माना है। ट्रक ड्राइवर अशोक जादव पर तीन सितंबर को जुर्माना लगाया गया था। लेकिन, शनिवार शाम को चालान की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई।
संबलपुर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ललित मोहन बेहरा ने कहा कि जादव को अनधिकृत व्यक्ति से ड्राइव कराने के लिए पांच हजार, बिना लाइसेंस के ड्राइविंग के लिए पांच हजार, ओवरलोडिंग के लिए 56 हजार, सीमा क्षेत्र से बड़ा सामान ले जाने के लिए 20 हजार रु. का जुर्माना लगाया था।
ट्रक चालक ने 70 हजार रु. चुकाए
चालक को 86,500 रुपए जुर्माना भरना था। लेकिन ड्राइवर ने अधिकारियों से काफी बहस की, जिसके बाद 70 हजार रु. चुकाए। ट्रक नागालैंड की एक कंपनी बीएलए इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर था। ट्रक में जेसीबी मशीन लोड थी, जिसे छत्तीसगढ़ ले जाया जा रहा था।
ओडिशा उन कुछ राज्यों में से एक है, जिन्होंने 1 सितंबर से संशोधित मोटर वाहन कानून लागू किया है। कानून के लागू होने के पहले चार दिनों में 88 लाख रु. से ज्यादा का संग्रह किया जा चुका है। पिछले हफ्ते भी भुवनेश्वर में एक ऑटो-रिक्शा चालक पर 47,500 रु. जुर्माना लगाया गया था। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, बीमा समेत कई जरूरी दस्तावेज नहीं थे।
कटक में कॉल सेंटर खोला जाएगा
ओडिशा के परिवहन विभाग ने मोटर वाहन संशोधन अधिनियम, 2019 के कार्यान्वयन में नागरिकों की समस्याओं के बारे में मुद्दों को सुलझाने के लिए एक कॉल सेंटर स्थापित करने का फैसला किया है। राज्य के वाणिज्य और परिवहन सचिव जी. श्रीनिवास ने कहा कि कॉल सेंटर कटक में परिवहन आयुक्त के कार्यालय में स्थापित किया जाएगा। यह सुबह 8 से रात 10 बजे तक खुला


भुवनेश्वर. ओडिशा के संबलपुर जिले में ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के बाद एक ट्रक ड्राइवर पर पिछले हफ्ते 86,500 रु. का जुर्माना लगा। नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत देशभर में यह अब तक सबसे ज्यादा जुर्माना है। ट्रक ड्राइवर अशोक जादव पर तीन सितंबर को जुर्माना लगाया गया था। लेकिन, शनिवार शाम को चालान की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई।
संबलपुर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ललित मोहन बेहरा ने कहा कि जादव को अनधिकृत व्यक्ति से ड्राइव कराने के लिए पांच हजार, बिना लाइसेंस के ड्राइविंग के लिए पांच हजार, ओवरलोडिंग के लिए 56 हजार, सीमा क्षेत्र से बड़ा सामान ले जाने के लिए 20 हजार रु. का जुर्माना लगाया था।
ट्रक चालक ने 70 हजार रु. चुकाए
चालक को 86,500 रुपए जुर्माना भरना था। लेकिन ड्राइवर ने अधिकारियों से काफी बहस की, जिसके बाद 70 हजार रु. चुकाए। ट्रक नागालैंड की एक कंपनी बीएलए इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर था। ट्रक में जेसीबी मशीन लोड थी, जिसे छत्तीसगढ़ ले जाया जा रहा था।
ओडिशा उन कुछ राज्यों में से एक है, जिन्होंने 1 सितंबर से संशोधित मोटर वाहन कानून लागू किया है। कानून के लागू होने के पहले चार दिनों में 88 लाख रु. से ज्यादा का संग्रह किया जा चुका है। पिछले हफ्ते भी भुवनेश्वर में एक ऑटो-रिक्शा चालक पर 47,500 रु. जुर्माना लगाया गया था। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, बीमा समेत कई जरूरी दस्तावेज नहीं थे।
कटक में कॉल सेंटर खोला जाएगा
ओडिशा के परिवहन विभाग ने मोटर वाहन संशोधन अधिनियम, 2019 के कार्यान्वयन में नागरिकों की समस्याओं के बारे में मुद्दों को सुलझाने के लिए एक कॉल सेंटर स्थापित करने का फैसला किया है। राज्य के वाणिज्य और परिवहन सचिव जी. श्रीनिवास ने कहा कि कॉल सेंटर कटक में परिवहन आयुक्त के कार्यालय में स्थापित किया जाएगा। यह सुबह 8 से रात 10 बजे तक खुला


भुवनेश्वर. ओडिशा के संबलपुर जिले में ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के बाद एक ट्रक ड्राइवर पर पिछले हफ्ते 86,500 रु. का जुर्माना लगा। नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत देशभर में यह अब तक सबसे ज्यादा जुर्माना है। ट्रक ड्राइवर अशोक जादव पर तीन सितंबर को जुर्माना लगाया गया था। लेकिन, शनिवार शाम को चालान की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई।
संबलपुर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ललित मोहन बेहरा ने कहा कि जादव को अनधिकृत व्यक्ति से ड्राइव कराने के लिए पांच हजार, बिना लाइसेंस के ड्राइविंग के लिए पांच हजार, ओवरलोडिंग के लिए 56 हजार, सीमा क्षेत्र से बड़ा सामान ले जाने के लिए 20 हजार रु. का जुर्माना लगाया था।
ट्रक चालक ने 70 हजार रु. चुकाए
चालक को 86,500 रुपए जुर्माना भरना था। लेकिन ड्राइवर ने अधिकारियों से काफी बहस की, जिसके बाद 70 हजार रु. चुकाए। ट्रक नागालैंड की एक कंपनी बीएलए इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर था। ट्रक में जेसीबी मशीन लोड थी, जिसे छत्तीसगढ़ ले जाया जा रहा था।
ओडिशा उन कुछ राज्यों में से एक है, जिन्होंने 1 सितंबर से संशोधित मोटर वाहन कानून लागू किया है। कानून के लागू होने के पहले चार दिनों में 88 लाख रु. से ज्यादा का संग्रह किया जा चुका है। पिछले हफ्ते भी भुवनेश्वर में एक ऑटो-रिक्शा चालक पर 47,500 रु. जुर्माना लगाया गया था। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, बीमा समेत कई जरूरी दस्तावेज नहीं थे।
कटक में कॉल सेंटर खोला जाएगा
ओडिशा के परिवहन विभाग ने मोटर वाहन संशोधन अधिनियम, 2019 के कार्यान्वयन में नागरिकों की समस्याओं के बारे में मुद्दों को सुलझाने के लिए एक कॉल सेंटर स्थापित करने का फैसला किया है। राज्य के वाणिज्य और परिवहन सचिव जी. श्रीनिवास ने कहा कि कॉल सेंटर कटक में परिवहन आयुक्त के कार्यालय में स्थापित किया जाएगा। यह सुबह 8 से रात 10 बजे तक खुला