देश का पहला खुद से बेलेंस बनाने वाला इलेक्ट्रिक स्कूटर, चलाने पर नहीं गिरेगा कोई भी

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। देश में कम्यूटर के लिए टू-व्हीलर सबसे पसंदीदा वाहन माना जाता है। ऐसा इसलिए भी दो-पहिया के चलते आ बड़े से बड़े ट्रैफिक को भी आसानी से पार कर जाते हैं। हालांकि, स्टेबिलिटी न होने के कारण इनसे सबसे ज्यादा दुर्घटना भी देखने को मिलती हैं। अब इसी दुर्घटना को कम करने के लिए इंडियन स्टार्ट-अप Liger मोबिलिटी एक ऐसा समाधान लेकर आई है, जो टू-व्हीलर चलाने वालों की राय पूरी तरह बदल देगा।
ये स्टार्ट-अप IIT ग्रुप का है और इस स्टार्टअप ने एक ऐसा प्रोडक्ट पेश किया है जिसमें स्कूटर खुद से बेलेंस बना सकता है और ये वॉयस कमांड से चलता है। हालांकि, प्रोडक्ट अभी तक प्रोटोटाइप स्टेज पर ही है और इसे पूरी तरह प्रोडक्शन में आने में थोड़ा समय लगेगा। इस वीडियो में Liger मोबिलिटी के अशुतोष उपाध्याय स्कूटर को अपनी आवाज से कमांड देते हैं। इस स्कूटर को रिवर्स कमांड और पार्किंग स्लॉट से आने के लिए कमांड दिया जाता है। देश में आज तक किसी वाहन में नहीं देखा गया कि आपकी वॉयस कमांड से कोई वाहन अपने आप निकलकर बाहर आ जाएगा। ये काफी आश्चर्यजनक था और राइडर इसे आसानी से कंट्रोल कर सकता है। इतना ही नहीं कोई भी व्यक्ति जिसने कभी टू-व्हीलर चलाया भी न हो वो भी इसे आसानी से चला सकता है।
वीडियो में देखा जा सकता है कि स्कूटर को कैसे चलाया जा रहा है और कैसे स्कूटर रोकने पर भी पैर जमीन पर नहीं रखे जा रहे। कंपनी ने इसमें एक ऐसी डिवाइस का इस्तेमाल किया है जिससे ये स्कूटर हमेशा बेलेंस बनाए रखता है। इसमें राइडर के गिरने का किसी तरह का कोई खतरा नहीं होता। इस डिवाइस को Liger की टीम ने करीब 2 साल के रिसर्च पर बनाया है। वीडियो के मुताबिक इस अतिरिक्त डिवाइस के जरिए इस स्कूटर की कीमतों में करीब 10 फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी, जो कि किफायती है।