9 साल की बच्ची सामने लाई ‘पिता’ का सच, रेप के आरोप में 10 साल की सजा

मुंबई: एक महिला के लिव-इन पार्टनर ने उसकी 9 साल की बेटी का रेप कर दिया। महिला फिर भी आरोपी को बचाने की कोशिश में बच्ची को समझाती रही कि ‘पिता’ के खिलाफ बयान न दे लेकिन छोटी से लड़की गजब का साहस दिखाते हुए मां के खिलाफ चली गई। वह अपने बयान पर कायम रही और आखिरकार आरोपी को दोषी साबित करा 10 साल जेल की सजा दिलाने में भी कामयाब रही।
बयान से पलटी मां
पीड़ित बच्ची की मां सेक्स वर्कर है। उसने ही घटना की शिकायत की थी लेकिन फिर वह अपने बयान से पलट गई। उसने कोर्ट में कहा कि वह शराब के नशे में पुलिस के पास शिकायत करने गई थी। अभियोजन पक्ष ने कोर्ट को बताया था कि 14 जून, 2017 को मां पड़ोसी के पास बेटी को छोड़ काम पर गई थी। जब वह उसे लेने वापस लौटी तो पड़ोसी ने बताया कि आरोपी उसे घर ले गया है।
बच्ची नहीं हुई टस से मस
घर पहुंचने पर उसने पाया कि दोनों सो रहे हैं। करीब तीन बाद बच्ची ने मां को बताया कि आरोपी ने पड़ोसी के घर से ले जाकर उसका रेप किया था। 17 जून, 2017 को बच्ची का मेडिकल टेस्ट हुआ और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई। हालांकि, इसके बाद मां बच्ची से आरोपी के खिलाफ बयान न देने को कहती रही। उसने वादा किया कि वे गांव में जाकर रहेंगे लेकिन बच्ची नहीं मानी। वह अपने बयान पर टिकी रही और साहस के साथ बयान दिया।