चोर ने भगवान को चिट्ठी लिख सारे गुनाह माफ करने को कहा, फिर दान पेटी चुरा ले गया: म. प्र. के सारणी की घटना

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के सारनी में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां चोर ने चोरी करने के अपने पापों के लिए माफी मांगी और फिर मंदिर की दान पेटी को तोड़कर हजारों रुपये उड़ा ले गया। दरअसल, सारनी शहर के राधाकृष्णन वार्ड के हनुमान मंदिर से एक चोर ने दान पेटी तोड़कर हजारों रुपयों की चोरी कर ली।
वहीं, चोरी से पहले चोर ने भगवान के नाम से एक चिट्ठी भी लिखी है। उसने अपनी चिट्ठी में सारे गुनाहों को माफ करने की बात लिखी है। चोर ने चिट्ठी में कहा कि वह परेशान होने के कारण अपराध कर रहा है। यह चिट्ठी दानपेटी के पास ही रखी मिली है।
मंगलवार को जब श्रद्धालु पूजा के लिए मंदिर आए तो उन्होंने मंदिर की दान पेटी टूटी हुई देखी, फिर दान पेटी के पास यह चिट्ठी देखी। बताया गया है कि मंदिर सार्वजनिक है, यहां कोई पुजारी नियुक्त नहीं है। चोरी की घटना के बाद क्षेत्र के लोगों में गुस्से का माहौल है।
मंदिर से जुड़े लोगों ने बताया कि मंदिर की दान पेटी पिछले तीन सालों से नहीं खोली गई थी। पेटी में लगभग 40 से 50 हजार रुपये नकद राशि हो सकती है। लोगों ने बताया कि इससे पहले भी मंदिर में हनुमान की प्रतिमा को असामाजिक तत्वों ने नुकसान पहुंचाया था।
वहीं, चोर ने चिट्ठी में लिखा था कि हे भगवान, मैंने जो भी गलती अभी तक की है, उसके लिए आपने क्षमा किया है। आज से मैं अपने इन कार्यों को पूरी तरह छोड़ दूंगा। भगवान धर्म खातिर और आई, पापाजी के लिए आपको आना ही होगा। अगर सब कुछ ठीक हो जाता है तो मैं समझूंगा, आपने मुझे आखिरी मौका दिया है। भगवान अब अगर सब कुछ ठीक हो गया तो मैं आपके किसी भी मंदिर में 500 रुपये दान करुंगा।