आरएसएस को लगी मिर्ची, कहा मनोज वाजपेयी की फिल्म The Family Man है हिन्दू विरोधी

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर मनोज वाजपेयी की वेब सीरीज इंटरनेट पर धूम मचा रही है और लोग भी इसकी तारीफ कर रही है। लेकिन, अब इस चर्चित वेब सीरीज को लेकर विवाद शुरू हो गया है। दरअसल, राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ को सीरीज के कुछ सीन को लेकर आपत्ति है और आरएसएस ने फिल्म को देश विरोधी और हिंदू विरोधी भी बताया है। आरएसएस की मैगजीन पांचजन्य में एक आर्टिकल के जरिए सीरीज पर आपत्ति दर्ज की गई है।
मैगजीन पर छपे आर्टिकल में कहा गया है, ‘वेब सीरीज में एनआईए की महिला अधिकारी कह रही हैं, स्पेशल पावर एक्ट के दम पर कश्मीरी लोगों को दबाया जा रहा है। हम उनके फोन और इंटरनेट बंद कर देते हैं। यहां के लोग हमारे रहमो-करम पर जी रहे हैं। किसी को खुलकर आजादी से जीने न देना अगर जुल्म नहीं है तो क्या है…आखिर हममें और उन मिलिटेंटों (आतंकवादियों) में फर्क क्या है?’
इस सीन को लेकर आर्टिकल में लिखा गया है, ‘क्या कोई कल्पना कर सकता है कि देश की सेना को आतंकवादियों जैसा कहने का ये कारनामा हमारे ही देश के फिल्मकारों का है।…फिल्मों और टीवी धारावाहिकों के बाद भारत विरोध और जिहाद का ये बिल्कुल नया रूप है। जनसंचार माध्यमों का बीते कुछ सालों में देशविरोधी एजेंडा चलाने के लिए भरपूर इस्तेमाल होता रहा है।’
साथ ही लिखा है, ‘द फेमिलीमैन’ की कहानी में सीरिया से ट्रेनिंग लेकर आए आईएसआईएस और कश्मीरी आतंकवादियों तक के मानवीय पक्षों को उभारा गया है। बताया गया है कि सभी आतंकवादी हिंदुओं, पुलिस या सेना के अत्याचार से परेशान होकर हथियार उठाने को मजबूर हुए। देश में हर तरह मुसलमानों को दबाया और कुचला जा रहा है। उनके साथ अत्याचार हो रहा है।’
इसके साथ ही मैगजीन में छपे आर्टिकल में और कई सीन को लेकर आपत्ति दर्ज की गई है। साथ ही हाल ही में रिलीज हुई कई वेब सीरीज को लेकर भी आपत्ति दर्ज की गई है। आर्टिकल में लिखा है, ‘कुछ समय पहले ‘सेक्रेड गेम्स’ और ‘घोल’ नाम से वेबसीरीज भी आई थीं, जो सीधे-सीधे हिंदुओं से घृणा का उदाहरण हैं। ‘सेक्रेड गेम्स’ में हिंदू धर्म को एक ऐसे कल्ट के तौर पर दिखाया गया है जो धरती को नष्ट करना चाहता है।’