Woman murders son to implicate husband, failed to kill another son

Jaipur: In order to punish her husband as responsible for spoiling her life, a woman first murdered one of her sons. The woman’s plan was TO kill the second son also. However, on the occasion, she retraced her steps. Before doing this, she sent a message to her husband on WhatsApp and asked to be ready for the pain of a lifetime.
After the younger son went to the terrace with the elder son
Navita Meena confessed to the police that her plan was that she would jump from the building after killing her two sons. She said that her marriage had broken up and her last attempts at reconciliation with her husband failed on Thursday. Additional DCP (West) Bajrang Singh said, “Late night she strangled his three-year-old son with a pillow. She was then going to jump from the building with the elder son. She also took him to the roof but pulled his feet back on the spot. ‘
Spouses were living separately
When she returned to her room, she saw the body of the younger son. The next day she accompanied the husband to the son’s funeral where people saw her. Police took Navita into custody, taking possession of the half-burnt body of the child. Namita also confessed to the crime. Police said that Navita and Rajesh had been living separately for many years and Namita had also filed for divorce.
Message sent on WhatsApp
The two met for counseling on Thursday where he expected Rajesh to apologize but did not. Angered by this, he decided to take this step. He messaged Rajesh on WhatsApp and blamed him for spoiling his life and asked him to be ready to bear the pain of a lifetime. He deleted the message but Rajesh took a screenshot.

पति को सजा देने के लिए बनाया बेटों की हत्या का प्लान, एक मासूम को मारने वाली मां गिरफ्तार
जयपुर: पति को अपनी जिंदगी खराब करने का जिम्मेदार मानते हुए उसे सजा देने के लिए एक महिला ने पहले अपने एक बेटे का मर्डर कर दिया। महिला का प्लान था कि दूसरे बेटे का मर्डर करके खुद भी जान दे देगी। हालांकि, ऐन मौके पर उसने अपने कदम पीछे खींच लिए। यह करने से पहले उसने पति को वॉट्सऐप पर मेसेज भेजा और जिंदगी भर के दर्द के लिए तैयार रहने को कहा।
छोटे बेटे के बाद बड़े बेटे को लेकर छत पर गई
नविता मीणा ने पुलिस के सामने माना कि उसका प्लान था कि वह अपने दोनों बेटों को मारने के बाद इमारत से छलांग मार देगी। उसने कहा कि उसकी शादी टूटने लगी थी और पति से सुलह की आखिरी कोशिशें गुरुवार को असफल हो गईं। अडिशनल डीसीपी (वेस्ट) बजरंग सिंह ने बताया, ‘देर रात उसने तीन साल के अपने छोटे बेटे का तकिया से दम घोंटकर मर्डर कर दिया। उसके बाद वह इमारत से बड़े बेटे के साथ छलांग मारने जा रही थी। वह उसे छत पर लेकर भी गई लेकिन ऐन मौके पर अपने पैर पीछे खींच लिए।’
अलग रह रहे थे पति-पत्नी
जब वह अपने कमरे में वापस लौटी तो छोटे बेटे का शव देखा। अगले दिन वह पति के साथ बेटे का अंतिम संस्कार करने गई जहां लोगों ने उन्हें देख लिया। पुलिस ने बच्चे का आधा जला शव कब्जे में लेकर नविता को हिरासत में ले लिया। नमिता ने भी अपराध कबूल कर लिया। पुलिस ने बताया कि नविता और राजेश कई साल से अलग रह रहे थे और नमिता ने तलाक की अर्जी भी दे रखी थी।
वॉट्सऐप पर भेजा मेसेज
दोनों गुरुवार को काउंसलिंग के लिए मिले थे जहां उसे उम्मीद थी राजेश माफी मांगेगा लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। इससे नाराज होकर उसने यह कदम उठाने का फैसला किया। उसने राजेश को वॉट्सऐप पर मेसेज कर उसे उसकी जिंदगी खराब करने के लिए जिम्मेदार ठहराया और जिंदगी भर का दर्द झेलने के लिए तैयार रहने को कहा। उसने मेसेज डिलीट कर दिया लेकिन राजेश ने स्क्रीनशॉट ले लिया।