मुस्लिम के हाथों मारे गए अंकित सक्सेना के माता-पिता ने दी इफ्तार पार्टी

नई दिल्ली: दूसरे धर्म की लड़की से प्यार करने के कारण जान गंवाने वाले अंकित के माता-पिता ने रविवार को अपने बेटे की याद में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया। इस मौके पर अंकित के पिता यशपाल सक्सेना ने कहा कि इस इफ्तार पार्टी देने के पीछे उनका मकसद दोनों समुदायों के बीच आपसी भाईचारे को बढ़ाना था। आगे उन्होंने कहा कि अंकित की हत्या एक मुसलमान ने की थी लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि सारे मुसलमान एक जैसे होते हैं। साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों धर्मों के बीच यह एकता हमेशा बनी रहे।
इफ्तार पार्टी में शामिल होनेवाले लोगों ने अंकित के पिता की कोशिश की काफी सराहना की और कहा कि ऐसी कोशिश समाज के दूसरे लोगों के लिए एक उदाहरण है। अंकित के परिजनों का कहना है कि उनका मकसद है कि अंकित के बहाने समाज में भाईचारा बढ़े। इसके लिए उन्होंने अंकित के नाम से एक ट्रस्ट बनाने की भी तैयारी की है।
बता दें कि 23 साल के अंकित सक्सेना का इसी साल फरवरी में मर्डर कर दिया गया था। अंकित का गुनाह सिर्फ इतना था कि वह दूसरे धर्म की पड़ोसी लड़की से प्यार करते थे। लड़की ने भी अंकित से शादी का फैसला कर लिया था जिसका एक विडियो वायरल हुआ था। इसके बाद ही लड़की के परिवारवालों ने उनकी सरेआम गला रेतकर हत्या की थी। वारदात ने मजहबी तूल पकड़ा, लेकिन अंकित के पिता यशपाल ने अपने बेटे की मौत को धार्मिक रंग नहीं देने की अपील की। इससे पहले अंकित के फ्रेंड्स ने उसके 23वें जन्मदिन को भी सेलिब्रेट किया था। अमन का पैगाम देने के लिए पोस्टर-बैनर लगाए थे।