Google engineer Azam Ahmad lynched in name of child lifting

Karnataka: 1 lynched, 2 injured by mob in Bidar on 13 July on suspicion of child theft. Their relative says ‘My cousins went to Aurad for picnic, my brother gave chocolates to school children, we don’t know what their parents thought but several villagers gathered&assaulted them.
I am looking into it, there were complaints earlier also from Bidar & Gulbarga dist regarding child lifting that’s why police is closely looking at it: G Parameshwara Karnataka Deputy CM on incident where 1 lynched, 2 injured by mob in Bidar on 13 July on suspicion of child theft
गूगल इंजीनियर आजम अहमद को भीड़ ने बच्चा चोर समझकर मार डाला
कर्नाटक के बीदर में अब मॉब लिंचिंग के मामले में एक इंजीनियर को अपनी जान गंवानी पड़ी है, हैदराबाद के इस सॉफ्टवेयर इंजीनियर को बच्चा चोरी की अफवाह में भीड़ ने पीट-पीटकर कर मार डाला है. जबकि 3 अन्य लोग बुरी तरह घायल हो गए हैं.
पुलिस के मुताबिक भीड़ ने बच्चा चोरी के आरोप में 32 साल के मोहम्मद आजम अहमद नाम के युवक को मौके पर ही पीट-पीटकर मार डाला. हैदराबाद के मलकपेट के रहने वाले मोहम्मद आजम अहमद गूगल में इंजीनियर थे. बताया जा रहा है कि हैदराबाद के रहने वाले मोहम्मद आजम, बशीर, सलमान और अकरम अपने दोस्त से मिलने के लिए बीदर के मुरकी आए थे.
खबरों की मानें तो यहां से लौटते वक्त इनमें से एक शख़्स वहां बच्चों को चॉकलेट बांटने लगा. तभी व्हाट्सएप पर बच्चा चोरी की अफवाह फैल गई. इसके बाद काफी संख्या में गांव वाले इकट्ठा हो गए और उन्होंने चारों लोगों पर हमला कर दिया.
इस वारदात की खबर जैसी पुलिस को लगी तमाम आला अफसर मौके पर पहुंच गए, खुद बीदर के एसपी ने इंजीनियर के तीन दोस्तों की जान भीड़ से बचाई. लेकिन तीनों बुरी तरह से जख्मी हैं. जख्मी नूर मोहम्मद, मोहम्मद सलमान और सलहम इदाल कुबैसी को बीदर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
पुलिस के मुताबिक मॉब लिंचिंग के आरोप में 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जबकि व्हाट्सएप पर बच्चा चोरी का अफवाह फैलाने वाले ग्रुप एडमिन को भी गिरफ्तार कर लिया है. इसके साथ ही पुलिस ने व्हाट्सएप बच्चा चोरी से जुड़े फर्जी विजुअल पोस्ट करने वाले को भी गिरफ्त में ले लिया है.
गौरतलब है कि पिछले दिनों ही महाराष्ट्र के धुले जिले में ग्रामीणों ने बच्चा चोरी करने वाले गिरोह का सदस्य होने के संदेह में 5 लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. धुले में साकरी तहसील के राइन पाड़ा गांव में 5 अनजान लोगों को संदिग्ध अवस्था में देख गांववालों को शक हुआ कि ये बच्चा चोर हो सकते हैं.
इसके बाद गांववालों ने उन्हें पहले ईंट-पत्थर से मारा और फिर कमरे बंद कर बेरहमी से पीटा. कमरे में इतना मारा गया कि इसी जगह पर पांचों ने दम तोड़ दिया था. वहीं गुजरात के अहमदाबाद में भी हाल ही में बच्चा चुराने के शक में भीड़ ने 40 वर्षीय महिला की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.