बाहर बैठा पति, अंदर पत्नी से रेप करता रहा डॉ., अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है

doctor molestation with women Excuse of treatment
सूरत। एक 28 वर्षीय महिला ने मंगलवार को गायनेकोलॉजिस्ट पर रेप का आरोप लगाया है। महिला ने बताया कि इलाज करवाने के लिए वह शहर के मी एंड मम्मी अस्पताल में गई थी। इलाज के बहाने डॉक्टर उसे अपने चैंबर में ले गया। उसने जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ रेप किया। महिला को मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया था। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।
पति बाहर बैठा रहा और आरोपी डॉक्टर अंदर महिला से करता रहा हैवानियत
– सूरत के नानपुरा के मी एंड मम्मी अस्पताल में बच्चा न होने के कारण इलाज करवाने आई महिला ने डॉ. प्रफुल दोषी पर रेप का आरोप लगाया है।
-पीड़िता ने बताया- शादी के पांच साल बाद वह नि:संतान है। इसके कारण उसने कई जगहों पर अपना इलाज करवाया इसके बाद भी जब कोई फायदा नहीं हुआ तो 4 सितंबर को अपने पति के साथ नानपुरा में डॉ. प्रफुल दोषी के मी एंड मम्मी अस्पताल में गई थी। अस्पताल में ढाई घंटों तक इंतजार करने के बाद डेढ़ बजे अंदर गए।
-डॉ. प्रफुल दोषी के ऑफिस में जाने के बाद उसका पति कुर्सी पर बैठ गया। चेकअप के लिए उसके साथ डॉक्टर और एक नर्स कंसल्टिंग रूम में गए।
-अंदर सोनोग्राफी करने के बाद डॉक्टर ने नर्स को इंजेक्शन लगाने को कहा। वह बेड पर लेटी हुई थी, तब उस वक्त वहां पर दूसरी नर्स ने आकर उसे इंजेक्शन लगाया और बाहर चली गई।
-अब रूम में वह और डॉक्टर ही थे। उसे अकेला पाकर डॉक्टर ने कहा- अगर उसने ये बात किसी को बताई तो इंजेक्शन लगाकर उसे जान से मार देगा। इसके बाद घबराकर उसने कुछ नहीं कहा और डॉक्टर ने उसके साथ रेप किया। रेप करने के बाद उसने अगले दिन दूसरा आईयूआई का इंजेक्शन लेने के लिए बुलाया। इसके बाद वह बाहर आ गई जहां उसका पति बैठा हुआ था। वहां से निकलकर बाहर काउंटर पर बिल जमा किया।
– अस्पताल के नीचे पार्किंग में आने के बाद उसने पूरी घटना पति को बताई। घर पहुंचते ही पति और अन्य सगे संबंधियों ने मिलकर डॉ. प्रफुल दोषी के खिलाफ अठवालाइंस थाने में मामला दर्ज करवाया।
डॉ. प्रफुल दोषी सूरत शहर के पहले गायनिक डॉक्टर हैं, जिन्होंने शहर का पहला इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) द्वारा बच्चे का जन्म कराया था।
शादी के कई सालों के बाद भी बच्चा नहीं होने की वजह डॉक्टर के पास गई थी महिला
– पीड़ित महिला डेढ़ महीने से डॉ. प्रफुल के पास इलाज करवा रही थी। वह अस्पताल में 4 से 5 बार आई थी। शादी के पांच साल बाद भी कोई बच्चा न होने की वजह से महिला ने कई गायनिक डॉक्टरों से इलाज करवाया। मगर कोई भी इलाज असरदार न होने की वजह से पीड़ित डॉ. के पास आई थी।
– रेप की रिपोर्ट लिखे जाने के बाद पुलिस ने बुधवार को डॉ. प्रफुल दोषी के मी एंड मम्मी अस्पताल में जाकर स्टाफ से पूछताछ की। अठवा पुलिस ने पीड़ित महिला को जांच के लिए आधी रात को शहर के सिविल अस्पताल में भेजा।
– अठवालाइंस पुलिस स्टेशन के पुलिस इंसपेक्टर एसबी भरवाड़ ने कहा, मामले की जांच चल रही है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है क्योंकि कुछ चीजें जाननी जरूरी हैं। जांच पूरी होने के बाद ही कुछ बता सकते हैं।