धोखे से आंख पर पट्टी बांधकर पूर्व प्रेमी की काट की गर्दन

नोएडा के सेक्टर-168 में तीन सितंबर को मृत मिले ऑटो चालक इसराफिल की हत्या का केस पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में इसराफिल की पूर्व प्रेमिका और उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया गया है। पूर्व प्रेमिका ने इसराफिल को प्रेमालाप का बहाना कर बुलाया और धोखे से उसकी आंखों पर पट्टी बांधकर उसके गले पर चाकू से वार कर दिया।
एसएसपी डॉ़ अजयपाल शर्मा ने बताया कि बिहार के कटिहार का रहने वाला इसराफिल यहां बरौला गांव में रहता था। 3 सितंबर को उसका शव मिला था। इसराफिल ऑटो चलाता था लेकिन मौके से उसका ऑटो और पर्स नहीं मिला। जांच में पता चला कि करीब 4 साल पहले इसराफिल की ट्रेन में मुजफ्फरपुर की सायरा से मुलाकात हुई थी। तब इसराफिल का दोस्त रहीम भी साथ में था। जल्द ही इसराफिल और सायरा के प्रेम-संबंध बन गए। करीब 2 साल पहले इसराफिल की शादी हो गई। इसका पता चलने पर सायरा ने रहीम से नजदीकी बढ़ा ली।
आरोप है कि सायरा को दूर होते देख इसराफिल ने उसे फोन पर धमकी देना शुरू कर दिया। इससे परेशान होकर सायरा ने रहीम को बिहार से बुला लिया। रहीम 31 अगस्त को ट्रेन से दिल्ली पहुंचा। दोनों ने मिलकर इसराफिल को ठिकाने लगाने की साजिश रची। इसके तहत 2 सितंबर को दोनों मेट्रो से नोएडा के लिए रवाना हुए। रहीम गोल्फ कोर्स और सायरा सिटी सेंटर पर उतर गई। यहां इसराफिल उसका इंतजार कर रहा था। इसके बाद इसराफिल और सायरा ऑटो से सेक्टर-168 पहुंचे। वहां सायरा और इसराफिल झाड़ियों के पीछे चले गए। सायरा ने उसे मोहक और कामोत्तेजक बातों में फंसाकर उसकी आंखों पर पट्टी बांधी और चाकू से गले पर वार कर दिया। यह देख पहले से वहां छिपा रहीम भी बाहर निकल आया और चाकू से इसराफिल की गर्दन काट दी।
इसके बाद दोनों इसराफिल का ऑटो लेकर एडवांट बिल्डिंग पहुंचे। वहां से रहीम दूसरा ऑटो पकड़कर दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा और फ्लाइट से बिहार चला गया। सायरा द्वारका में अपने घर चली गई। एसएसपी ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर रहीम को रविवार को पकड़ लिया गया। उसके जरिए घटना का खुलासा होने के बाद सायरा को भी गिरफ्तार कर लिया गया।