अमेरिका में रहने वाली पत्रकार ने एमजे अकबर पर लगाया रेप का आरोप

पल्लवी गोगोई ने ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ अखबार में एक कॉलम में पूरी घटना का ज़िक्र किया है. हालांकि एमजे अकबर के वकील ने इन आरोपों को झूठा करार दिया है.
अमेरिका में रहने वाली एक भारतीय मूल की पत्रकार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर बलात्कार करने का आरोप लगाया है. पल्लवी गोगोई नाम की ये पत्रकार नेशनल पब्लिक रेडियो (NPR) में चीफ बिजनेस रिपोर्टर हैं. उन्होंने ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ अखबार में एक कॉलम में पूरी घटना का ज़िक्र किया है. हालांकि एमजे अकबर के वकील ने इन आरोपों को झूठा करार दिया है. (वॉशिंगटन पोस्ट में प्रकाशित मूल लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)
पल्लवी गोगोई ने लिखा है कि एमजे अकबर एक शानदार पत्रकार थे लेकिन ‘एशियन एज’ अखबार में एडिटर-इन-चीफ रहते हुए उन्होंने अपने अपने पद का दुरुपयोग किया. गोगोई ने जब एशियन एज में नौकरी शुरू की थी, तब उनकी उम्र सिर्फ 22 साल थी. पल्लवी के मुताबिक घटना 1994 की है.

गोगोई ने लिखा है, ‘मैं उनकी भाषा शैली से काफी प्रभावित थी. मैं सोचती थी कि काश मैं भी ऐसा लिखूं. लिहाजा मैं उनका काफी सम्मान करती थी. ऐसे में उनकी गालियों को भी मैं सह लेती थी.’
सिर्फ 23 साल की उम्र में गोगोई को अखबार में ओपिनियन पेज का एडिटर बना दिया गया. लेकिन उनका कहना है कि इसके लिए उन्हें बड़ी कीमत चुकानी पड़ी. उस दिन को याद करते हुए उन्होंने लिखा है. ”अकबर ने मेरी तारीफ की, लेकिन अचानक ही उसने मुझे किस कर लिया. मैं बेहद डर गई…. मैं शर्मिंदा हो गई.” गोगोई ने पूरी घटना अपने एक साथी को बताई.
दूसरी घटना कुछ महीनों के बाद मुंबई में एक मैगजीन लॉन्च के दौरान हुई. उन्होंने इस घटना का ज़िक्र करते हुए लिखा, ‘अकबर ने मुझे ताज होटल के कमरे में बुलाया. एक बार फिर से उन्होंने मुझे किस करने की कोशिश की. मैंने उन्हें धक्का दिया. उसने मेरे चहरे पर खरोंच मार दी…मैं रोते हुए वहां से भागी. उस दिन शाम को एक दोस्त को बताया कि मेरे चेहरे पर इसलिए खरोंच आ गई क्योंकि मैं होटल में गिर गई थी.’ इस घटना के बाद वो दिल्ली लौट गईं. दिल्ली में एमजे अकबर ने उन्हें नौकरी से निकालने की धमकी दी.
तीसरी घटना जयपुर की है. अकबर ने उन्हें एक स्टोरी करने के लिए जयपुर बुलाया था. गोगोई ने लिखा, ‘ होटल के कमरे में मैंने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरे कपड़े फाड़ दिए और मेरा रेप किया. मैं शर्मिंदा हो गई. लेकिन उस उक्त मैंने इसके बारे में किसी को नहीं बताया. मुझे लगा कि शायद इस घटना पर कोई यकीन नहीं करेगा. मैंने खुद को इस घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया.’
आपको बता दें कि एमजे अकबर पर कई महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं. आरोपों के बाद उन्हें मोदी कैबिनेट से इस्तीफा देना पड़ा था. मीटू कैंपेन के तहत यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने अपनी सफाई देने के बाद कानूनी रास्ता अपनाया है.

Pallavi Gogoi

@pgogoi
Those before me have given me the courage to reach into the recesses of my mind and confront the monster that I escaped from decades ago. Together, our voices tell a different truth @TushitaPatel @SuparnaSharma @priyaramani @ghazalawahab
My story https://www.washingtonpost.com/news/global-opinions/wp/2018/11/01/as-a-young-journalist-in-india-i-was-raped-by-m-j-akbar-here-is-my-story/?utm_term=.9151f1b5541a …

2:52 AM – Nov 2, 2018

Opinion | As a young journalist in India, I was raped by M.J. Akbar. Here is my story.
I know what it is like to be victimized by powerful men like Akbar.

washingtonpost.com