ट्रेन में सिगरेट पीने से रोका तो पैर से गला दबाकर गर्भवती को मार डाला

पंजाब से बिहार जा रही टाटा अमृतसर एक्सप्रेस में सिगरेट पीने का विरोध करने पर कुछ युवकों ने पैर से गला दबाकर गर्भवती की हत्या कर दी। साथ ही, मां को बचाने आए बेटे को भी पीटा यह घटना शुक्रवार रात बरेली स्टेशन के बाद हुई। आरोपी युवक बरेली से ट्रेन में चढ़े थे। पुलिस ने महिला के बेटे की शिकायत पर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। शाहजहांपुर स्टेशन पर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया।
बरेली स्टेशन से ट्रेन में चढ़े थे आरोपी
रंजीत कुमार ने बताया कि वह छठ पूजा के लिए अपनी मां चिंता देवी (45) के साथ टाटा अमृतसर जलियांवाला एक्सप्रेस में पंजाब से बिहार जा रहा था। बरेली स्टेशन पर कुछ युवक ट्रेन में चढ़े। जैसे ही ट्रेन चली, वे युवक सिगरेट पीने लगे। महिला ने सिगरेट पीने से मना किया तो युवक उनसे भिड़ गए।
आरोपियों ने बेटे के साथ भी मारपीट की
विवाद बढ़ने पर युवकों ने महिला को पीटना शुरू कर दिया। रंजीत ने मां को बचाने की कोशिश की तो युवकों ने उसे भी पीटा। इस दौरान एक युवक ने चिंता देवी को ट्रेन के फर्श पर पटक दिया और पैर से गला दबा दिया। इससे महिला की मौत हो गई।
जीआरपी सीओ कृष्ण कुमार का कहना है कि ट्रेन में सिगरेट पीने को लेकर यह विवाद हुआ। बेटे की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही, एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। उसके साथियों की तलाश की जा रही है।